• Home   /  
  • Archive by category "1"

Sahas Essay In Hindi

बाल कहानी साहस का प्रतिफल। 

बहुत समय पहले की बात है। धरती पर दो सालों तक बिलकुल वर्षा नहीं हुई। चारों ओर सूखा अकाल पड़ गया। अपने तालाब को सूखता देख कर मेढ़क को चिंता हुई। उसने सोचा, अगर ऐसे ही रहा तो वह भूखा मर जाएगा। उसने सोचा कि इस अकाल के बारे स्वर्ग में जाकर वहां के राजा से बात करनी चाहिए।

बड़ी हिम्मत कर मेंढक अकेला ही स्वर्ग की ओर चल पड़ा। रास्ते में उसे मधुमक्खियों का एक झुंड मिला। मक्खियों के पूछने पर उसने बताया कि भूखे मरने से तो अच्छा है कि कुछ किया जाए। मक्खियों का भी सूखे से बुरा हाल था। जब फूल ही नहीं रहे तो उन्हें शहद कहां से मिलता। वे भी मेंढक के साथ चल दीं।

आगे बढ़ने पर उन्हें एक मुर्गा मिला। मुर्गा बहुत उदास था। जब फसल ही नहीं हुई, तो उसे दाने कहां से मिलते। अब तो हाल ये थे की उसे खाने को कीड़े भी नहीं मिल रहे थे। इसलिए मुर्गा भी उनके साथ चल दिया।

अभी वे सब थोड़ा ही आगे गए थे कि एक खूंखार शेर मिल गया। वह भी बहुत दुखी था। उसे खाने को जानवर नहीं मिल रहे थे। उनकी बातें सुन शेर भी उनके साथ हो लिया।

कई दिनों की लम्बी यात्रा के बाद वे स्वर्ग में पहुंचे। मेंढक ने अपने सभी साथियों को राजा के महल के बाहर ही रुकने को कहा। उसने कहा कि पहले वह भीतर जाकर पता तो कर आये की राजा अभी है भी की नहीं ?

मेंढक उछलता हुआ महल के भीतर चला गया। कई कमरों में से होता हुआ वह राजा के कमरे तक पहुंच गया। राजा अपने कमरे में बैठा परियों के साथ आनंद ले रहा था। मेंढक को क्रोध आ गया। उसने लम्बी छलांग लगाई और उनके बीच पहुंच गया। परियां एकदम चुप हो गईं। राजा को एक छोटे से मेंढक की करतूत देख गुस्सा आ गया।


उसने मेंढक से कहा की ‘छोटे पागल जीव! तुमने हमारे बीच आने का साहस कैसे किया ?’  परंतु मेंढक बिलकुल भी नहीं डरा। उसे तो धरती पर भी भूख से मरना था। बैसे भी जब मौत साफ दिखाई दे तो हर कोई निडर हो जाता है।


राजा ने चीखकर पहरेदारों को आवाज लगाईं की वे उस मेंढक को महल से निकालकर बाहर फेंक दें। मगर इधर-उधर उछलता मेंढक उनकी पकड़ में नहीं आ रहा था। मेंढक ने मधुमक्खियों को आवाज दी। वे सब भी अंदर आ गईं और पहरेदारों के चेहरों पर डंक मारने लगीं। उनसे बचने के लिए सभी पहरेदार भाग गए।

राजा हैरान था। तब उसने तूफान के देवता को बुलाया। पर जैसे ही मुर्गे ने शोर मचाया और और गुस्से में पंख फड़फड़ाना शुरू किया, वह भी डरकर भाग गया। तब राजा ने अपने कुत्तों को बुलाया। उनके लिए भूखा खूंखार शेर पहले से ही तैयार बैठा था।

अब राजा ने डर कर मेंढक की ओर देखा। मेंढक ने कहा, ‘महाराज! हम तो आपके पास प्रार्थना करने आए थे। धरती पर अकाल पड़ा हुआ है। हमें वर्षा चाहिए।’

राजा ने उससे पीछा छुड़ाने के लिए कहा, ‘अच्छा चाचा! वर्षा को भेज देता हूं।’

जब मेंढक अपने साथियों के साथ धरती पर वापस आया तो वर्षा भी उनके साथ थी। इसलिए वियतनाम में मेंढक को ‘स्वर्ग का चाचा’ कह कर पुकारा जाता है। लोगों को जब मेंढक की आवाज़ सुनाई देती है वे कहते हैं, ‘चाचा आ गया तो वर्षा भी आती ही होगी।’

दोस्तों यह कहानी वियतनाम की लोककथा है जिसे आज भी लोग एक-दूसरे को सुनाते हैं। आपको यह कहानी कैसी लगी हमें बताएं। 


SHARE THIS

आज यहापर हिंदी में कुछ सर्वश्रेष्ठ साहस पर अनमोल वचन Courage – daring quotes in Hindi दे रहें है, मुझे विश्वास है की आपको ये Quotes अच्छे लगेंगे. अगर आपको सचमुच अच्छे लगे तो इसे आपके दोस्तों से जरुर share करे.

साहस पर अनमोल विचार – Courage – Daring quotes in Hindi

1. किस्मत भी उसी का साथ देती हैं जो हिम्मत करते हैं.

2. साहस का अर्थ है डर से आगे की खोज.

3. मुश्किलों से भाग जाना आसान है, खुदा का यही तो वो इम्तिहान होता है, डरने वालोँ को मिलाता नहीं जिंदगी में, लड़ने वालोँ के कदमों में जहान होता है.

4. हिम्मत न कर पाने का कारण यह नहीं है की कुछ कर पाना कठिन हैं, बल्कि कुछ कर पाना कठिन इसलिए है की हम हिम्मत ही नही करते.

5. मुसीबतों में भागो मत, उसका सामना करो.

6. डर कहीं और नहीं, बस आपके दिमाग में होता है.

7. आपके भीतर के साहसिक कारण “जिन्हें दुसरे लोग नहीं देख पाते” ही आपको विश्वास देते हैं.

8. मैंने यह जाना है की डर का ना होना साहस नहीं हैं, बल्कि डर पर विजय पाना साहस है, बहादुर वह नहीं है जो भयभीत नहीं होता, बल्कि वह है जो इस भय को परास्त करता है.

9. गलतियां हमेशा क्षमा की जा सकती हैं, यदि आपके पास उन्हें स्वीकारने का साहस हो.

10. कोई भी लक्ष्य मनुष्य के साहस से बड़ा नहीं, हारा वही जो लड़ा नहीं.

11. हिम्मत है तो जीवन है, हिम्मत नहीं तो कुछ भी नहीं हैं.

12. जीत और हार यह आपकी सोच पर ही निर्भर है, मान लो तो हार है ठान लो तो जीत है.

13. खुद को बुरा कहने की हिम्मत नहीं इसलिए अक्सर लोग कहते हैं “जमाना ख़राब है”

14. कभी भी लोग आपके बारे में टिप्पणी करें तो घबराना मत, बस यह बात याद रखना की हर एक खेल में दर्शक ही शोर मचाते हैं, खिलाडी नहीं.

15. दुनिया में तुम्हें कोई उस वक्त तक नहीं हरा सकता, जब तक तूम हिम्मत ना हार जाओ. ~ Sandeep Maheswari

16. अगर सबकुछ खोकर भी कुछ करने की हिम्मत और सहस बाकि हो, तो समज लो की तुमने कुछ भी नहीं खोया.

Read More Quotes In Hindi :-

Note : अगर आपके पास अच्छे नए विचार हैं तो जरुर कमेन्ट के मध्यम से भजे अच्छे लगने पर हम उसे Courage And Daring Quotes इस लेख में शामिल करेगे.
I hope these “Daring quotes in Hindi” will like you.
If you like these “Daring quotes in Hindi” then please like our facebook page & share on whatsapp.
Note :- For more articles like “Courage – daring quotes in Hindi”  and more new article daily update please download – Gyanipandit free android App.

Gyani Pandit

GyaniPandit.com Best Hindi Website For Motivational And Educational Article... Here You Can Find Hindi Quotes, Suvichar, Biography, History, Inspiring Entrepreneurs Stories, Hindi Speech, Personality Development Article And More Useful Content In Hindi.

One thought on “Sahas Essay In Hindi

Leave a comment

L'indirizzo email non verrà pubblicato. I campi obbligatori sono contrassegnati *